ब्रेकिंग न्यूज़
logo

बेतिया मंडल कारा बंदी की हुई कोरोना से मौत, मंडल कारा प्रशासन हुआ सतर्क।

Karunakar TripathiMay 03, 20210 views

शहाबुद्दीन अहमद

बेतिया,पश्चिमी चंपारण, बिहार।

स्थानीय मंडल कारा के एक बंदी की मौत, जीएमसीएच बेतिया के कैदी वार्ड में इलाज के क्रम में हो गई है, संवाददाता को मिली जानकारी के अनुसार, बाल्मीकि नगर के पिपरा कुटी गांव का रहने वाला,रामायण कुशवाहा, जिसकी आयु 51 वर्ष बताई गई है, कोरोना संक्रमण होने के कारण इलाज के क्रम में, मौत हो गई, कारा अधीक्षक, रामाधार सिंह ने बताया कि मृतक कैदी का पोस्टमार्टम कराकर उसके शव को, उसके परिजनों को सौंप दिया जाएगा। प्राप्त जानकार सूत्रों के अनुसार, कैदी रामायण कुशवाहा को बगहा उपकरण से मंडल कारा,बेतिया में 18 दिसंबर 2020 को लाया गया था,30अप्रैल2021 को अचानक उसकी तबियत10.30 में बिगड़ गई,कारा के डॉक्टर के प्रमार्श पर, उसे गंभीर स्थिति में, जीएमसीएच बेतिया के कैदी वार्ड में इलाज हेतु भर्ती कराया गया, उक्त कैदी 8 घंटा के इलाज के क्रम में, 1 मई को प्रातः 6:35 में उसका देहांत हो गया, इस घटनाक्रम के बाद मंडल कारा प्रशासन बेतिया बहुत सतर्क हो गया है, ज्ञातव्य हो कि इस मंडल कारा बेतिया के 2 कैदियों की मौत कोरोना संक्रमण से चार दिन पूर्व में भी हो चुकी है, मंडल कारा अधीक्षक, रामाधार सिंह ने बताया कि इस मंडल कारा में, पूर्णा गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है, और सभी मंडल कारा के कैदियों को सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए, मासक का भी प्रयोग किया जा रहा है, कारा अधीक्षक ने आगे बताया कि इस मंडल कारा में 28 पुरुष वार्ड और एक महिला वार्ड है, कैदियों एवं परिजनों को आने के पूर्व उनकी सभी सामानों की जांच की जा रही है, और उन्हें सैनिटाइजर भी किया जा रहा है, और पूरे कैदी वार्डों को भी पूर्ण रूप से सैनिटाइज किया गया है, इन्होंनेआगे बताया कि पूरे वार्डों में 1311 कैदियों के रखने की व्यवस्था है, मगर अभी 1868 कैदी रह रहे हैं,महिला वार्ड में 20 रखने की अनुमति है ,मगर अभी महिला वार्ड में 50 महिला कैदी रह रहे हैं, इस मण्डल कारा में क्षमता से अधिक कैदी अभी रह रहे हैं।


       

Comments

  1. No Comments posted yet!