ब्रेकिंग न्यूज़
logo

दहेज हत्या मामले में पति को 10 वर्ष,सास-ससुर को 7- 7 वर्ष की उम्र कैद की सजा।

Karunakar TripathiNov 23, 20220 views

शहाबुद्दीन अहमद

बेतिया,पश्चिमी चंपारण, बिहार।

स्थानीय व्यवहार न्यायालय में दहेज हत्या के एक मामले की सुनवाई पूरी करते हुए,अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश,अमित कुमार दीक्षित ने पति को दोषी पाते हुए 10 वर्ष के कठोर कारावास की सजा तथा सास व ससुर को 7- 7 वर्ष की कठोर कारावास की सजा सुनाई है, न्यायधीश ने तीनों दोषियों के ऊपर अर्थदंड भी लगाया है, अर्थदंड के भुगतान नहीं करने पर उन्हें अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। न्यायाधीश ने अपने फैसले में मृतक आश्रित को पीड़ित घोषित करते हुए यह निर्देश दिया है कि वे लोग बिहार पीड़ित प्रतिकार स्कीम के तहत सहायता राशि के हकदार होंगे।सजायफ्ता पति,ईसमोहम्मद मियां,ससुर अलीशेर मियां, तथा सास सलमा खातून,गोपालपुर थाने की खापटोला गांव की रहने वाली बताई गई हैं। अपर लोक अभियोजक, ज्योति भूषण फौजदार ने संवाददाता को बताया कि मझौलिया थाने के चैलाभार गांव के फरमान देवान की पुत्री, शबनम खातून की शादी, ईसमोहम्मद मियां से हुई थी। शादी के बाद कुछ दिन तक वह अपने ससुराल में ठीक ढंग से रह रही थी,लेकिन उसके बाद उसके ससुराल वालों ने उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया।अंत में 12 जनवरी 2010 को पति,सास और ससुर ने मिलकर उसकी हत्या कर दी,साथ ही शव को कब्रिस्तान में दफना दिया। इस संबंध में, मृतका के पिता,फरमान देवान ने गोपालपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।इसी मामले की सुनवाई पूरी करते हुए यह सजा सुनाई है।


       

Comments

  1. No Comments posted yet!